Tuesday, April 9, 2013

DURGA STUTI

नवरात्री में माँ दुर्गा की विशेष पूजा की जाती है ,यहाँ मैं माँ दुर्गा के सप्तश्लोक की संछिप्त व्याख्या कर रही हूँ और आशा करती हूँ कि आप सभी को पूजन में आसानी के साथ आन्नद भी आयेगा ,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,

 

कलयुग में समस्त कामनाओं को सिद्ध करने वाली अम्बा स्तुति इस प्रकार है ------------
  1. माँ दुर्गा! आप स्मरण करने मात्र से ही सब भक्तों का भय हर लेती हो ,और पुरुषों द्वारा आपका चिंतन करने पर उनको परम कल्याणमयी बुद्धि प्रदान करती हो .
  2. दुःख ,भय और दारिद्रता को मिटने वाला आपके सिवा कोई नहीं है ,आपका चित्त सभी का उपकार करने के लिए तत्पर रहता है .
  3.  सब प्रकार का मंगल प्रदान करने वाली नारायणी! तुम कल्यान्दयिनी शिव का रूप हो ,सभी पुरुषों  को शिद्ध करने वाली तीन नेत्रों वाली शरणागत वत्सला माँ तुम्हें नमस्कार है .
  4. माँ !तुम शरणों में आये हुए दीन  और पीड़ितों की रक्षा में संलग्न रहती हो और सबकी पीड़ा को दूर करने वाली माँ नारायणी तुम्हें नमस्कार है .
  5. सर्वेश्वरी ,सर्वरूपा! माँ सब प्रकार की शक्तियों से संपन्न दिव्यरूपा देवी! हमारी सब भयों से रक्षा करो ,.
  6. हे माँ! आप प्रसन्न होने पर सब रोगों को नष्ट कर देती हो और अगर आप कुपित हो जाती हो तो सब मनोवांछित कामनाओं का नाश कर देती हो ,तुम्हारी शरण में आये मनुष्य भी दूसरों को शरण देने वाले हो जाते है ,तुमको नमस्कार है .
  7. हे सर्वेश्वरी !तुम इसी तरह तीनों लोकों की समस्त बाधाओं को शांत करके हमारी रक्षा करती रहो .

No comments:

Post a Comment